Aa Manar Rasool Ki Aayat – आ-मनर्रसूल की आयत

Aa Manar Rasool Ki Aayat: बिस्मिल्लाहिर्रहमानिर्रहीम यह आयत पढ़ने का बहुत सवाब है और मेराज की रात रसूले खुदा सल्लाहो अलैहि वालेहि वसल्लम (अल्लाह हुम्मा सल्ले अला मोहम्मद वा आले मोहम्मद) और हक तआला के बीच हुए सवालों का इसमे जवाब है और आयतें ख़ास तौर-तरीके से इशा की नमाज़ के बाद पढ़ने का ज़्यादा सवाब है।

आ-मनर्रसूल की आयत:

इशा की नमाज़ के बाद दोनों आयतें पढ़े तो ऐसा है जैसे पूरी रात जाग कर अल्लाह की इबादत की और दौराने आयत पढ़ने से दीन व दुनिया की तमाम हाजतें पूरी होंगी और शैतान उसके पास नहीं आ सकेगा।

Dua e Mashlool in Hindi | दुआ-ए-मशलूल | PDF

Leave a Reply

Your email address will not be published.