Namaz E Shab, Namaz E Shifa, Namaz E Tahajjud In Hindi

Namaz E Shab  

Namaz E Shab Ka Tarika नमाज़े शब 11 रकत नमाज़ है  पहली 8 रकत नमाज़ आपको इसी तरह पढ़नी है जैसे सुबह की नमाज़ पढ़ते है

नामज़े शब की नियत :

Namaz Shab Ka Tarika (हम नामज़े शब, नमाज़े ए तहज्जुद या नाफला ए लैल पढ़ते है क़ुर्बतन इलल्लाह ) किसी भी नियत का ज़बान पर दोहराना ज़रूरी नहीं है दिल में कह देना काफी है  नियत करने के बाद आपको 2-2 रकत करके 8 रकत नमाज़ पढ़नी है ! मतलब तशुद सलाम के साथ 2 रकत नमाज़ तमाम करे और फिर दोबारा नियत करे के में नमाज़ ए शब् पढता हू क़ुर्बतन इलल्लाह !

पहली 2 रकत में अल्हम्द के बाद सुरहा कुल्होवल्लाह हो अहद और दूसरी रकत में अल्हम्द के बाद कुल्याहियोहल काफ़िरून पढ़नी है अगर आपको ये सुराह याद नहीं तो आप सुबह की नामज की तरह भी पढ़ सकते है कोई मसला नहीं है लेकिन ये बेहतर तरीका है !

बाकी की 6 रकत में आप जो चाहे वो छोटा सुरहा पढ़ सकते है जब आप 8 रकत नफला से फारिख हो जाये तो तस्बी ए जनाबे फ़ात्मा ज़ेहरा सलामुल्लाह अलैहि पढ़े !

2 रकत नमाज़े ए शिफा  

नियत:- हम नाफला ए शिफा या नमाज़े ए शिफा पढ़ते है क़ुर्बतन इलल्लाह !
पहली रकत में अल्हम्द के बाद सुराह नास और दूसरी रकत में अल्हम्द के बाद सुराह फ़लक पढ़ें

नमाज़े ए वित्र 1 रकत 

नियत:- 1 रकत नमाज़े ए वित्र पढ़ते है क़ुर्बतन इलल्लाह

अल हम्द के बाद 1 मर्तबा कुल्होवल्लाह हो अहद, 1 मर्तबा कुलआऊज़बे रब्बिल फ़लक और 1 मर्तबा कुलआऊज़बे रब्बिल नास पढ़े अगर आपको ये सुराह याद नहीं है तो आप अल्हम्द के बाद 3 बार सुराह कुल्होवल्लाहो अहद भी पढ़ सकते है !

Sajda e Shukar Ka Tarika

इसके बाद हाथो को उठाकर 70 मर्तबा या 100 मर्तबा अस्तघफिरुल्लाह रब्बी वा अतुबु इलैह कहे, बाद इसके 300 मर्तबा ये कहे अलअफ़वो इसके बाद 40 मोमनीन के लिए दुआ करे इसका तरीका ये है अल्लाह हुम्मग़ फिर ले फ़लां ( फलां की जगह आपको नाम लगाना है )

जैसे:- अल्लाह हुम्मग़ फिर ले अली, अल्लाह हुम्मग़ फिर ले फ़ात्मा, अल्लाह हुम्मग़ फिर ले हसन इसी तरह आप कितने भी नाम ले सकते है आप ज़िंदा या मुर्दा किसी के भी नाम ले सकते है !

नोट:- नमाज़े ए वित्र में दुआ ए क़ुनूत नहीं पढ़ा जाता है !

SmartPhone

One thought on “Namaz E Shab, Namaz E Shifa, Namaz E Tahajjud In Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *