Dua e Ahad in Hindi | दुआ ए अहद हिंदी

Dua e Ahad in Hindi

Dua e Ahad in Hindi दुआ-ए-अहद हज़रत इमाम जाफर सादिक (अल्लाह हुम्मा सल्ले अला मोहम्मद वा आले मोहम्मद) से नक्ल हुआ है कि जो शख्स इस दुआ को चालीस दिन नमाज सुब के बाद पढ़े तो वह इमाम के नासिरों में शुमार होगा

और इमाम के ज़हूर से पहले इन्तेकाल कर जाए तो खुदावन्दे आलम उसको कब्र से उठाएगा और इसकी बरकत से हज़ार नेकी लिखी जाएगी और हजार गुनाह मिटाए जायेंगे।


 

Other Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *