Surah E Rahman in Hindi, Fazilat, Barakat By Imam Jafar Sadiq a.s

Surah E Rahman in Hindi

सूर-ए-रहमान : Surah E Rahman in Hindi: हज़रत इमाम जाफ़र सादिक  अ.स. (अल्लाह हुम्मा सल्ले अला मोहम्मद वा आले मोहम्मद)  इरशाद फरमाते हैं कि इस सूरत की तिलावत नहीं छोड़ना चाहिये क्यों कि कयामत के दिन ये सूरत एक खूबसूरत इन्सानी शक्ल व सूरत में और महकती खुश्बू में अल्लाह के सामने हाजिर होगा और इस से पूछा जाएगा कि तुझे कौन कौन पढ़ता था, जो लोग इसकी तिलावत करते रहे होंगे उनके चेहरे गोरे होजाएंगे और उनसे कहा जाएगा कि तुम्हारे रिश्तेदार हैं इनके लिये शफाअत करो और इन्हे जन्नत में दाखिल किया जाएगा।

Surah E Rahman in Hindi

बिसमिल्ला हिर रहमानिर रहीम: अल्लमल कुरआन • ख-ल-कल इंसान. अल ल-म-हुल बयान • अश-शम्सु वल क-म-रू बि-हुसबानिव • वन्नजमु वश-श-ज-रू यसजुदान • वस्समा-अर-फ-अ-ह व-व-ज-अल मीज़ान • अल्ला ततगौ फिल मीजान • व अकीमल वज-न बिल किस्ति वला तुखसिरूल मीज़ान • वल अर-ज़ व-ज-अहा लिल अनाम • फ़ीहा फ़ाकि-हतुंव वन-नखलु जातुल अकमाम • वल हब्बु जुल-असफि वर-रैहान • फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान •

ख-ल-कल इंसा-न मिन सलसालिन कल फख्खार • व-ख-ल-कल जान-न मिम मारिजिम मिन्नार • फ़बि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान • रब्बुल मशरिकैनि व रब्बुल मगरिबैन • फ़बि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान • म-र-जल बहरैनि यल-तकियान • बै-नहुमा बरज़खुल ला यबगियान • फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान • यख-रूजु मिन-हुमल लो-लु-उ वल-मरजान • फ़बि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान • व-ल-हुल जवारिल मुन-श-आतु फ़िल बरि कल-अअलाम •

फ़बि अय्यि आलाइ रबिकुमा तुकज्जिबान • कुल्लु मन अलैहा फ़ान • व-यबका वजहु रब्बि-क जुल-जलालि वल-इकराम • फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान . यस-अ-लु-हु मन फिस्समावाति वल अर्ज, कुल्लु यौमिन हु-व फी शान • फ़बि अय्यि आलाइ रबिकुमा तुकज्ज़िबान • सनफ-रूगु लकुम अय्युहस-स-क-लान • फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान . या-मअशिरल जिन्नि वल-इन्सि इनिस त-तअतुम अन तनफूजू मिन अकतारिस्मावाति वल–अरजि फनफज ला तनफुजू-न इल्ला बि-सुल्तान •

फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान • युर-सलु अलैकुमा शुवाजुम मिन नारिंव व-नुहासुन फला तन-तसिरान • फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज़्ज़िबान • फ़-इज़िन शक्कतिस समाउ फ़कानत वर-दतन कदिहान • फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान • फ़-यौ-म-इ-ज़िल ला युस-अलु अन जमबिही इन्सुंव वला जान्न • फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान युअ-रफुल मुज-रिमू-न बि-सीमाहुम फ़-युअखजु बिन्नवासी वल-अक्दाम • फ़बि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान •

हाज़िही जहन्नमुल्लती युकज्जिबु बिहल मुजिमून • यतूफू-न बै-नहा व बै-न हमीमिन आन • फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज़्ज़िबान • वलिमन खा–फ मका-म रबिही जन्नतान • फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान • जवाता अफ्नान • फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमातुकज्जिबान • फीहिमा ऐनानि तजरियान • फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज़्ज़िबान • फीहिमा मिन कुल्लि फाकि-हतिन जौजान • फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान •

मुत्तकिई-न अला फुरूशिम बताइ-नुहा मिन इस-तब-रक, व-ज-नल जन्नतैनि दान • फ़बि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान • फ़ीहिन-न कासिरातुत्तरफि लम यतमिसहुन-न इनसुन कब-लहुम वला जान्न • फ़बि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज़्ज़िबान • क-अन्नहुन्नल याकूतु वल मरजान • फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान • हल जज़ाउल एहसानि इल्लल एहसान • फबि अय्यि आलाइ राधबकुमा तुकज्जिबान . वमिन दनिहिमा जन्नतान •

फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान . मुद्हाम्मतान . फ़बि अय्यि आलाइ रबिकुमा तुकज्जिबान • फीहिमा ऐनानि नज्जा-खतान • फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान • फीहिमा फाकि-हतूंव व-नख-लुंव व-रूम्मान • फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान • फीहिन-न खैरातुन हिसान • फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान . हरूम्मकसूरातुन फिल खियाम • फ़बि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान • लम यतमिस-हुन-न इनसुन कब-लहुम वला जान्न •

फबि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान • मुत्तकि-ई-न अला रफ़-रफिन खुज़रिंव व-अब-करीयिन हिसान • फ़बि अय्यि आलाइ रब्बिकुमा तुकज्जिबान • तबा-रकस्मु रब्बि-क ज़िल-जलालि वल-इकराम !

One thought on “Surah E Rahman in Hindi, Fazilat, Barakat By Imam Jafar Sadiq a.s

Leave a Reply

Your email address will not be published.